Monday, September 20, 2010

नीलकंठ

नीलकंठ ...

दूर  झील  में  बैठा ... टैक्सी की  खिड़की  से  देखा ...
झटपट ... आँखें  बंद  करीं ...
एक  मनचाही  बात  मन  में  दोहरा  ली ...

फिर  सोचा ... 

क्या  नीलकंठ  भी  दूसरे  नीलकंठ  को  देख  आंख  मूँद  लेता  होगा ?...
या  चुपचाप  शीशे  में  देख  .. खुद  को .. निहारता  नहीं  ... कुछ  मन  ही  मन  मांग  लेता  होगा ...

क्या  किसी  मालदार .. 
क्लास  में  अव्वल  ... 
सबसे  खूबसूरत .. 
लम्बी  उम्र  वाले  
नीलकंठ  को  देखा  है  आपने ?

1 comment: